किसान ने नहीं जमा किया बिल तो उठा ले गए टीवी, फ्रिज और बाइक

-मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में बिजली कंपनी के अफसरों की दबंगई का सामने आया मामला

भोपाल. प्रदेश की भाजपा सरकार में बिजली कंपनी के अफसरों की दबंगई सामने आई है. बिजली बिल नहीं भर पाया किसान तो कंपनी के अफसरों ने उसके घर से टीवी, फ्रिज और मोटर साइकिल तक उठा ले गए. मामला बैतूल जिले का हैं, जहां छह गांवों के किसानों के घर से बाइक और टीवी तक को कुर्क कर लिया गया है. इधर, कांग्रेस ने इस कार्रवाई पर राज्य सरकार पर हमला करते हुए इसे किसानों के साथ अत्याचार बताया है. कार्रवाई बैतूल जिले के आमला क्षेत्र में छह गांवों के किसानों पर हुई है. बिजली वितरण कंपनी ने अपने दायरे में आने वाले बड़गांव, ब्राह्मणवाड़ा, खेड़ली बाजार, छिपन्या में गांवों में बड़ा वसूली अभियान चलाया. बिजली विभाग ने यहां के किसानों के घरों में रखे टीवी और मोटरसाइकिलें तक कुर्क कर ली.

100 से अधिक किसानों से होगी वसूली
बिजली विभाग के मुताबिक आमला वितरण केंद्र के दायरे में आने वाले चार उपकेंद्रों में 101 किसानों से 20 हजार से 50 हजार तक की वसूली की जाना है. इनमें से 51 किसानों पर 50 हजार से ज्यादा का बिल बकाया है. अधिकारियों के मुताबिक वसूली के लिए शासन के निर्देशों के बाद कार्रवाई की जा रही है.

शासन के आदेश के बाद चलाया वसूली अभियान

आमला वितरण केंद्र के अधिकारियों के मुताबिक ऐसे उपभोक्ता जिनका बिजली बिल बहुत ज्यादा है और नोटिस देने के बाद भी बिल नहीं भर रहे हैं, उनके खिलाफ कुर्की की गई है. शासन की ओर से भी ऐसे आदेश हैं, जिसमें आसपास के गांवों में 101 उपभोक्ता हैं जिनका बिल 20 हजार से 50 हजार रुपए या उससे भी अधिक बकाया है. अधिकारी के अनुसार एक उपभोक्ता की बाइक कुर्क की गई. उस पर 51 हजार रुपए बकाया था. वो नोटिस के बावजूद भी बिल जमा नहीं कर रहा था।

यहां जब्त की थी टीवी और बाइक
छिंदवाड़ा जिले के परासिया में भी ढाई साल पहले ऐसी ही कार्रवाई हो चुकी है. जाटाछापर गांव के सुखदयाल गौली की टीवी, रफीक खान की चक्की मोटर जब्त की गई थी. इसके अलावा भाजीपानी में ज्ञानी वर्मा की टीवी, सुभाष डागोरिया की टीवी, चरईकलां की मोटरसाइकिल, गुढ़ी के गनपत खड़से के घर का सोफासेट, टीवी को कुर्क कर लिया गया था.

कांग्रेस ने कहा- ये अत्याचार है
राज्य सरकार की ओर से की जा रही इस कार्रवाई के बाद कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला. बिजली कंपनी द्वारा की जा रही इस कार्रवाई को कांग्रेस ने किसानों पर अत्याचार बताया है. कांग्रेस का कहना है कि इस वसूली अभियान के खिलाफ बड़ा आंदोलन छेड़ा जाएगा।

पहले भी कई बार हुई ऐसी कार्रवाई
रतलाम जिले में भी बिजली बिल के बड़े बकाया दार कृष्ण स्टोन क्रेशर पर कार्रवाई हो चुकी है. 10 माह पहले प्रीतमनगर में इस कंपनी पर 3.39 लाख रुपए बकाया था. नहीं चुकाने पर एक ट्रैक्टर जब्त कर लिया गया था.

Leave a Comment