इंदौर अस्पताल में कोरेाना मरीजों को खिलाया जा रहा बदबूदार खाना

-भोजन से आ रही बदबू को देख मरीजों ने मचाया हंगामा, शासन व प्रशासन की लापरवाही पर की नारेबाजी, सूचना मिलते ही पहुंचा पुलिस प्रशासन, सरकारी बदइंतजामी की खुली पोल

इंदौर. कनाडि़या स्थित कोविड केयर सेवाकुंज अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों को बदबूदार भोजन दिए जाने का मामला सामने आया है.
भोजन से आ रही बदबू को देख अस्पताल परिसर में मरीजों ने हंगामा मचाया. सरकार व प्रशासन की व्यवस्था को लेकर नारेबाजी की. इधर मरीजों के हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और समझाइश देकर मामले को शंात कराया.
मरीजों ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन ने उन्हें यहां लाकर छोड़ दिया है. कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा. एक मरीज ने बताया कि मैं पंद्रह दिन से अस्पताल में हूं. एक रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है. दूसरी रिपोर्ट आठ दिन से नहीं आई. कई मरीजों को सिर्फ विटामिन की गोलियां दी गई. उनकी दोबारा न तो कोरोना की जांच हुई है न ही उन्हें डिस्चार्ज किया जा रहा. सोमवार रात दिए गए भोजन में दाल और चावल से बदबू आ रही थी.

विरोध करने पर कर्मचारी करते है विरोध
मरीजों ने बताया कि कैंटीन संचालक द्वारा बासी खाना परोसा जा रहा है. विरोध करने पर कर्मचारी विवाद करते हैं. महिलाओं ने आरोप लगाया कि उनके साथ छोटे-छोटे बच्चे भी हैं जिन्हें कोरोना होने का खतरा है. अस्पताल के डॉक्टर, प्रबंधक सहित एसडीएम, कलेक्टर व अन्य अधिकारियों को फोन लगाए, लेकिन कोई बात करने को तैयार नहीं है. मंगलवार को अस्पताल में हुए हंगामे के बाद पुलिस बल भी पहुंचा. कोविड केयर इंचार्ज डॉ. माधव हसानी ने बताया कि सुबह मरीजों ने साफ-सफाई और रिपोर्ट को लेकर हंगामा किया था.नगर निगम का अमला उसी समय आ गया था. सफाई करा दी थी.अन्य समस्याओं के समाधान के लिए समझाइश दे दी गई है. प्रभारी सीएमएचओ डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बताया कि हंगामे की बात मेरी जानकारी में नहीं है. कोविड अस्पतालों की व्यवस्थाओं के इंचार्ज एस भदौरिया ने फोन ही नहीं उठाया.

Leave a Comment