गड़बड़ी का विरेाध करना एसड़ीओ को पड़ा भारी, ठेकेदार ने मारा सब्बल

-गाड़ी चढ़ाकर जान से मारने की कोशिश, राशन दुकान पहुंचकर बचाई जान

-पीडित पीडब्ल्यूडी एसडीओ बोला-नागौद से भाजपा विधायक नागेंद्र सिंह से संबंध बताता है पीडि़त ठेकेदार

भोपाल. सड़क निर्माण में विरोध करना पीडब्ल्यूडी बरही को भारी पड़ गया. खुद को भाजपा विधायक नागेंद्र सिंह का संबंधी बताने वाले ठेकेदार ने एसडीओ पर सब्बल से हमला कर दिया. जिसमें वे गंभीर रूप से घायल हो गए. किसी तरह से राशन दुकान पहुंचकर जान बताई. कटनी जिले के विजयराघवगढ़ थाना पहुंचकर ठेकेदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई.
बरही में पदस्थ पीडि़त एसडीओ भूपेंद्र सिंह लोधी ने बताया कि विजयराघवगढ़ में सिघनपुरा से सिंगौड़ी के बीच सड़क निर्माण का काम चल रहा है. जिसका वे शनिवार को निरीक्षण करने गए थे. इस दौरान पीडब्ल्यूडी के एसडीओ ने सड़क निर्माण में गुणवत्ता का पालन नहीं किए जाने की बात कही. जिससे ठेकेदार गुस्से में आ गया. दूसरी तरफ घटना के बाद शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों में नाराजगी है. आरोपी ठेकेदार को ब्लैकलिस्टेड करने के साथ ही जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे.पीडि़त एसडीओ ने बताया कि सड़क निर्माण के दौरान कान्हा एसोसिएट्स के देवेंद्र सिंह (बुलबुल) और अविनय सिंह (भोली) ने मारपीट की. दोनों नागौद के हैं और नागेंद्र सिंह से अपना संबंध बताते हैं।

एसडीओ ने सुनाई घटना की आपबीती
एसडीओ भूपेंद्र सिंह लोधी ने बताया कि शनिवार शाम 3.30 बजे सिंघनपुरा से कुछ दूरी पर सड़क की जांच कर रहा था तो थिकनेस सही नहीं मिला. मटेरियल भी सही नहीं मिला तो प्राक्लन के अनुसार काम करने कहा. जैसे ही ये बात कही देवेंद्र और अविनय ने गाली गलौच करना शुरू कर दिया. पीछे से अविनय ने उसी सब्बल को मार दिया जिससे थिकनेस चेक करने के लिए सड़क खुदाई कर रहे थे. लोहे का सब्बल मारा तो मैं नीचे नाले में गिर गया. फिर पत्थर से मारते रहे. कहा कि यहां सड़क पर नहीं मारते आउटर में मारेंगे और गाड़ी में बैठाकर ले जाने लगे. इसी बीच स्टेयरिंग पकड़ लिया.स्टेयरिंग पकड़ते ही हाथ में जमकर काट दिया, और गेट खोलकर भागा तो गाड़ी लेकर पीछा किया. मेरे उपर ही गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया. तभी मैने पेड़ की आड़ लेकर जान बचाई. वहां से गाड़ी रिवर्स कर मारने की कोशिश की तो भागकर समीप में सिंगौड़ी स्थित राशन दुकान पहुंचा. भीड़ देखकर ठेकेदार दोनों ने कहा कि घर में जान से मार देंगे. इसके बाद राशन दुकान से इंजीनियर और टाइमकीपर के साथ विजयराघवगढ़ थाने पहुंचा. वहां से अस्पताल में जांच के बाद कटनी रैफर किया गया. हाथ, पैर, व सीने में चोट की वजह से सांस लेने में तकलीफ हो रही. थाना प्रभारी का कहना है कि आरोपी ठेकेदार फरार हैं. पकडने के लिए नागौद टीम भेजी गई है।

Leave a Comment