सीएम शिवराज के गृह जिले में रेत माफिया का तांडव, कांस्टेबल को वाहन सेे कुचलने की कोशिश

-कार्रवाई करने गए पुलिसकर्मियांे पर रेत माफिया ने किया हमला, पैर फ्रैक्चर, होशंगाबाद अस्पताल में भर्ती आरक्षक

भोपाल. मध्यप्रदेश में रेत माफिया के हौसले सातवें आसमान पर हैं.
गुरुवार रात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर के रेहटी थाना क्षेत्र के जहाजपुरा गांव में रेत माफिया ने कांस्टेबल को रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राली से कुचलने की कोशिश की. वाहन चढ़ा दिया. जिसमें कांस्टेबल का बायां पैर फ्रैक्चर हो गया. गंभीर चोटें आई हैं. इलाज के लिए उसे होशंगाबाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
जानकारी के मुताबिक सीहोर जिले के रेहटी थाना क्षेत्र के सलकनपुर चौकी क्षेत्र के आंवलीघाट जहाज पुरा गांव की रेत खदान पर देर रात माफिया तीन ट्रैक्टर-ट्राली में अवैध रूप से रेत भरकर ले जा रहे थे. जिसकी सूचना सलकनपुर चौकी प्रभारी राजू मखोड़ को मिली. वह दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे. इस पर रेत माफिया ट्रैक्टर-ट्राली लेकर भागने लगे. कांस्टेबल धर्मेद्र यादव ने उन्हें बढ़कर रोकने का प्रयास किया, जिस पर माफिया ने रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राली उस पर चढ़ा दिया और भाग गए. गंभीर हालत में कांस्टेबल धर्मेंद्र यादव को होशंगाबाद अस्पताल रैफर किया है.
एसडीओपी एसएस पटेल ने बताया कि आरोपी दीपक दायमा और उसके भाई विनय दायमा मकोडि़या के खिलाफ धारा 307, 353, 379 के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. इसके पहले भी सीहोर में रेत माफिया की दबंगई कई बार सामने आती रही है. 26 जुलाई को लाड़कुई चौकी के सामने रेत माफिया फायरिंग करते देखे गए थे. इसके पहले आष्टा के एक गांव में रेत माफिया बंदूक लहराकर धमकी दे रहे थे. सीहोर में एनजीटी की रोक के बाद भी रेत का खनन लगातार जारी है.

Leave a Comment