PM नरेंद्र मोदी ने किया “पीएम किसान योजना लॉन्च” का उद्घाटन, कहा- स्कीम से लटके विरोधियों के चेहरे

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर में ‘किसान सम्मान निधि योजना’ को लॉन्च करते हुए एक तरफ किसानों को संबोधित किया तो दूसरी तरफ विपक्ष पर भी तीखे वार किए। पीएम मोदी ने स्कीम के फायदे गिनाते हुए कहा कि इस योजना के बारे में जब हमारे विरोधियों ने संसद में सुना तो चेहरे लटक गए थे। महामिलावटी लोग परेशान हो गए और अब अफवाहें फैला रहे हैं। मुझे लगता है कि यह उनका जन्मजात स्वभाव है। अब उन्होंने ऐसी अफवाह चालू की है कि मोदी ने अभी 2,000 रुपये दिए हैं, फिर देगा, लेकिन साल भर के बाद इसे वापस ले लेगा।

पीएम मोदी ने विपक्षी दलों की राज्य सरकारों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि वे किसानों की सूची नहीं सौंपते हैं तो फिर अन्नदाता के शाप से उनका विनाश हो जाएगा। पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, गुजरात, बिहार और महाराष्ट्र जैसी सरकारों का अभिनंदन करता हूं, जिन्होंने प्राथमिकता दी। ऐसी भी कई सरकारें हैं, जिनकी नींद अभी खुली नहीं है। मैं ऐसी राज्य सरकारों को चेतावनी देता हूं कि यदि आपने सूची नहीं पहुंचाई तो किसानों का शाप और बद्दुआएं आपको तहस-नहस कर देंगी।’

‘मोदी काम करते हैं, चुनावी खेल नहीं खेलता’
पीएम मोदी ने कर्जमाफी न करने को लेकर कहा कि हमारे लिए भी कर्जमाफी आसान थी। रेवड़ी बांट देते, खेल खेल लेते। लेकिन मोदी ऐसा नहीं करता। हमारी सरकार पीएम सिंचाई योजना पर ही एक लाख करोड़ रुपये खर्च कर रही है। इस स्कीम पर पैसा इसलिए लगा रहे हैं कि देश की सिंचाई परियोजनाओं को पूरा किया जा सके, जो 40-40 साल से लटकी हुई थीं। हमने 99 ऐसी परियोजनाओं को चुना था, जिनमें से 70 योजनाओं पर काम पूरा हो चुका है।

Leave a Comment