जनादेश के साथ प्रद्युम्न ने की गद्दारी- विधायक आलोक

पार्टी छोड़ने पर बड़ामलहरा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रद्युम्न का किया विरोध

भोपाल. बड़ामलहरा से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न लोधी के पार्टी छोड़ने और भाजपा में शामिल होने पर विरोध शुरू हो गया है। कांग्रेस के कार्यकारी जिला अध्यक्ष और छतरपुर से कांग्रेस विधायक ने प्रद्युम्न पर धोखा देने और भाजपा पर खरीद-फरोख्त व जोड़तोड़ कर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया है।
कांग्रेस के छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी ने प्रद्युमन के भाजपा में प्रवेश पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि जिस पार्टी ने उन्हें यहां तक पहुंचाया और सम्मान दिलाया, उस पार्टी से उन्होंने धोखा किया है, ये गलत है। उन्होंने भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा खरीद-फरोख्त और जोड़तोड़ कर लोकतंत्र की हत्या कर रही है। यहीं भाजपा का चरित्र है। जिला कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष अनीष खान ने बयान जारी कर कहा कि भाजपा कोरोना की आड़ में ओछी राजनीति कर सत्ता में बने रहने का अवसर ढूंढ रही है । खरीददारी और दवाब बनाकर गिनती बढ़ा रही है। छतरपुर ने 4 विधायक कांग्रेस को दिए, बुन्देलखंड में कांग्रेस की मजबूत स्तिथि को भाजपा सहन नही कर पा रही थी। भाजपा शुरू से ही तोडऩे की राजनीति में लगी थी और जो नही टूटा उसके व्यापार को चोट पहुंचाई। जिसका उदाहरण सिंधिया समर्थक रहे पूर्व विधायक और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष राम निवास रावत ह।ै जिन्होंने भाजपा ज्वॉइन नही की तो उनके पेट्रोल पंप सील कर दिए, उनकी कॉलेज की जमीन सरकारी घोषित कर दी।

बड़ामलहरा के कांग्रेसियों ने जताया विरोध
विधायक प्रद्युमन सिंह लोधी के भाजपा में शामिल होते ही क्षेत्र की राजनीति में हलचल मच गई है। स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं में असंतोष है। स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ता अब अपने विधायक के खिलाफ मोर्चा खोलनें की तैयारी में है। पार्टी कार्यकर्ताओं ने साफ तौर पर कहा कि, कांग्रेस पार्टी के सिंबल पर प्रद्युमन सिंह लोधी ने क्षेत्र से बडी जीत हासिल की थी। वह बडामलहरा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की एकजुटता का परिणाम है। उपचुनाव में उन्हें जनता से करारा जबाब मिलेगा। ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र दीक्षित, जिला महामंत्री सुशील मोदी, युंका अध्यक्ष राजकुमार सिंह चौहान ,पूर्व नपा अध्यक्ष शफीक मुहम्मद, सेवादल ब्लॉक अध्यक्ष अभय जैन, कोषाध्यक्ष प्रमोद जैन, युंका महासचिव बेटू मोदी ने कड़ी भत्र्सना की और विधायक को अवसरवाद की पराकाष्ठा की संज्ञा दी। जनता और मतदाता के विश्वास पर इसे कुठाराघात बताया। आगामी उप चुनाव में उन्हें सबक सिखाने की जनता से अपील के साथ भाजपा व विधायक के खिलाफ नारेबाजी की।

Leave a Comment