111 साल की उम्र में सिद्धगंगा मठ के महंत शिवकुमार स्वामी का निधन, कर्नाटक में 3 दिन का राज्य शोक

नई दिल्ली। कर्नाटक के तुमकुरु में सिद्धगंगा मठ के महंत डॉ शिवकुमार स्वामी का 111 साल की उम्र में निधन हो गया। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी पुष्टि की है।

मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने बताया कि महंत डॉ शिवकुमार स्वामी का निधन सोमवार सुबह 11:40 मिनट पर हुआ। कुमार स्वामी ने कहा कि उनका अंतिम संस्कार 22 जनवरी की शाम 4:30 बजे किया जाएगा।

शिवकुमार स्वामी के निधन के दुख में राज्य सरकार ने 3 दिन का राज्य शोक और एक दिन की स्कूलों की छुट्टी का ऐलान किया है। महंत डॉ शिवकुमार स्वामी के निधन की खबर के बाद से ही तुमकुरु सिद्धगंगा मठ की सुरक्षा को और कड़ा कर दिया है। हालांकि, यहां पहले से भी सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे। राज्य के करीब-करीब सभी बड़े नेता तुमकुरु सिद्धगंगा मठ पहुंचे हैं। उम्मीद की जा रही है कि PM मोदी, अमित शाह और राहुल गाँधी भी यहां पहुंच सकते हैं। पीएम मोदी और राहुल गांधी ने ट्वीट कर उनके निधन पर शोक भी जताया ।

बता दें कि शिवकुमार स्वामी राज्य में सबसे अधिक दबदबे वाले लिंगायत समुदाय के मुख्य मठ सिद्धगंगा के प्रमुख थे। ये मठ बेंगलूरू से लगभग 80 किलोमीटर दूर तुमकुरु में है। राज्य में इनके मठों की संख्या 400 से ज्यादा है। शिवकुमार स्वामी 111 साल के हो चुके थे और बीमार थे। पिछले महीने चेन्नई के एक निजी अस्पताल में उन्होंने पित्ताशय और यकृत की बाईपास सर्जरी कराई थी। जिसके बाद उन्हें पहले बेंगलुरु और फिर तुमकुरु के सिद्धगंगा मठ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सिद्धगंगा मठ प्रमुख डॉ शिवकुमार स्वामी को भारत रत्न देने की मांग कई बार उठ चुकी है। पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता बीएस येदियुरप्पा और जगदीश शेट्टार के बाद वर्तमान सीएम एचडी कुमारस्वामी ने भी इन्हें भारत रत्न दिए जाने के लिए आवाज उठाई है।

Leave a Comment