बैठक में बोले कमलनाथ-कोई समस्या हो तो बिना बताए मेरे पास आएं

-उपचुनाव की रणनीति बनाने प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष नाथ ने बुलाई बैठक, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह भी रहे मौजूद

भोपाल. उपचुनाव की रणनीति बनाने को लेकर पूर्व सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने विधायकों की बैठक बुलाई. रणनीति बनाई. बैठक में कांग्रेस विधायकों के साथ पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह भी इस बैठक में मौजूद रहे.

जिनको समस्या वो मेरे पास आएं
पूर्व सीएम कमलनाथ ने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा कि जो लोग पार्टी छोड़कर चले गए हैं उनके बारे में मुझे पहले से ही जानकारी थी. उन्होंने कोई शिकायत या समस्या नहीं बताई. बिना बताए ही पार्टी छोड़कर चले गए. विधायकों को संबोधित करते हुए कमलनाथ ने कहा-जिसे जो समस्या है वो मुझसे आकर कहे. भाजपा में पद और पैसे के लालच में किसी को नहीं आना चाहिए.

बैठक मे पहुंचे 80 विधायक
कांग्रेस विधायक दल की बैठक में 90 में से 80 विधायक ही पहुंचे. चार विधायक बीमार हैं. चार ने पीसीसी चीफ से छुट्टी ले ली थी. दो रास्ते में फंसे होने के कारण नहीं आ पाए. विधायक लक्ष्मण सिंह, नाती राजा, सचिन यादव, सचिन बिड़ला, रवि जोशी, प्रवीण पाठक, बैठक में नहीं पहुंचे.

विधायकों को कांग्रेस में ही रहने की दिलाई गई शपथ
विधायक दल की बैठक के दौरान विधायकों को कांग्रेस में रहने की शपथ दिलाई गई. मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री ओमकार मरकाम ने शपथ पढ़ी और सभी विधायकों ने हाथ उठाकर कहा कि वो कांग्रेस के साथ हैं. बतादें कि हाल ही में कांग्रेस के दो विधायकों ने इस्तीफा दिया है. इन विधायकों ने अपनी विधानसभा सदस्यता से भी इस्तीफा देते हुए भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है. मध्यप्रदेश में अब 24 की जगह 26 सीटों पर उपचुनाव होने हैं. मध्यप्रदेश में कांग्रेस के विधायकों की संख्या घटकर 90 हो गई है.

Leave a Comment