जयभान की पोस्ट से भाजपा की बढ़ी मुश्किल

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से ग्वालियर के कद्दावर नेता ने कहा वीरांगना लक्ष्मी बाई की समाधी पर दो फूल चढ़ाने क्यों नहीं गए नए मंत्रीगण

भोपाल. ज्योतिरादित्य सिंधिया व उनके समर्थकों के भाजपा में शामिल होने के बाद से पार्टी के पुराने नेताओं की नाराजगी कम नही हो रही। शनिवार को ग्वालियर क्षेत्र से भाजपा के कद्दावर नेता जयभान सिंह पवैया ने सोशल मीडिया में एक पोस्ट की। जिससे भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की मुश्किलें बढ़ गई। पवैया ने एक ट्वीट कर कहा कि ‘मध्य प्रदेश के नए मंत्री गण जब ग्वालियर आए तो वीरांगना लक्ष्मी बाई की समाधी पर दो फूल चढ़ाने क्यों नहीं गए? याद रखें यह प्रजातंत्र और मंत्री परिषद शहीदों के लहू से ही उपजे है इतना तो बनता है।’ माना जा रहा है इस ट्वीट के जरिए उन्होंने सीधा निशाना ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक मंत्रियों पर साधा है। मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद अभी तक विभागों का बंटवारा नहीं हो पाया है। ऐसे में जयभान सिंह पवैया के इस ट्वीट ने राजनीतिक खेमों में खलबली मचा दी है।
उल्लेखनीय है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक मंत्री ग्वालियर में सिंधिया की छतरी पर पुष्पांजलि के लिए गए थे। इसी के बाद पवैया ने यह ट्वीट किया। सिंधिया और लक्ष्मीबाई के इतिहास को लेकर पवैया ज्योतिरादित्य के घोर विरोधी रहे हैं। अब दोनों एक ही पार्टी में हैं। जिसके चलते दोनों में सामंजस्य नहीं बन पा रहा। बतादे कि जयभान सिंह पवैया पिछली भाजपा सरकार में मंत्री रहे। इसके अलावा वे सांसद भी रह चुके हैं।

Leave a Comment