भाजपा में जनहित की बात करो तो विरोध करार दिया जाता है- रामदयाल

-पार्टी के पुराने नेता, पूर्व विधायक ने दिया इस्तीफा, वरिष्ठ नेताओं पर लगाया आरोप कहा-पार्टी में तानाशाही, पुराने कार्यकर्ताओं का अपमान किया जा रहा

भोपाल. दतिया जिले के सेवढ़ा से भाजपा के पूर्व विधायक ने गुरुवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता और सभी पदो से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने भाजपा पर कई गंभीर आरोप लगाए है. उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में पार्टी में जनहित की बात करो तो उसे विरोध करार दिया जाता है. उन्होंने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा को इस्तीफे का पत्र भेजा है, जिसमें उन्होंने पार्टी में तानाशाही और पुराने कार्यकर्ताओं की उपेक्षा और अपमान करने का आरोप लगाया है. बतादें कि दतिया नरोत्तम मिश्रा का गृह जिला है। यहां से पूर्व विधायक के इस्तीफे के बाद भाजपा सकते में है। प्रदेश अध्यक्ष को भेजे इस्तीफे में दतिया जिला महामंत्री रामदयाल प्रभाकर ने आरोप लगाया कि पार्टी में पुराने कार्यकर्ताओं की उपेक्षा और अपमान किया जा रहा है। पार्टी में तानाशाही है और पार्टी हित, जनहित की बात को विरोध करार दिया जाता है।

Leave a Comment