कोरोना पर लगाम लगाने नाकाम सरकार, एक दिन में मिले 798 मरीज

प्रदेश में 19000 से ज्यादा संक्रमित, 14 दिन में तीन गुना तेजी से फैला संक्रमण

भोपाल. प्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नही ले रहा। लगातर कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा, लेकिन उसको रोकने में प्रदेश की भाजपा सरकार नाकाम साबित हो रही।
आकड़ो पर नजर डाले तो मध्यप्रदेश में मंगलवार को एक दिन में अब तक के सबसे अधिक 798 कोरोना संक्रमित मिले। सोमवार को भी 575 पॉजिटिव मरीज मिले थे। 24 घंटे में 223 मरीज बढ़ गए। पहले के 14 दिन में से 9 दिन 300 से ज्यादा केस मिले। 1 जुलाई को 268 संक्रमित मिले थे, अब यह संख्या करीब तीन गुना हो गई है।

कोरोना का कहर सबसे अधिक भाेपाल, इंदाैर, ग्वालियर, मुरैना में देखने को मिल रहा। फिलहाल इंदाैर में 1100, जबकि भोपाल में करीब 900 एक्टिव केस हैं। 52 जिलों में से केवल पन्ना ही एक ऐसा जिला है, जहां एक भी एक्टिव केस नहीं है। राहत की बात ये है कि जिस तेजी से संक्रमण बढ़ रहा है, उसी रफ्तार से मरीज ठीक भी हाे रहे हैं। 19005 मरीजाें में से अब तक 71 फीसदी ठीक हाे चुके हैं। राजधानी में मंगलवार को 87 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। अब कुल संक्रमितों की संख्या 4013 हो गई है। वहीं इंदौर में 93 नए मरीज मिले। 5 की मौत हो गई।

भोपाल में पहले 2000 मरीज 80 दिन में मिले थे, अंतिम 1000 आए 14 दिन में

भोपाल मेे पहले 2 हजार मरीज 80 दिन में मिले थे। इसके बाद के 2 हजार मरीज महज 35 दिन में सामने आए। अनलॉक-2 एक जुलाई से शुरू हुआ था, तब से अब तक 14 दिन में ही एक हजार मरीज मिल चुके हैं। 30 जून को शहर में कुल संक्रमितों की संख्या 3029 थी, जो अब बढ़कर 4013 पर पहुंच गई है। इससे पहले एक हजार मरीज बढ़ने में 21 दिन लगे थे। 9 जून को 2053 मरीज थे, इसके बाद के 21 दिनों में 976 मरीज बढ़े थे।

1 जुलाई से अब तक 1417 मरीज ठीक

शुरुआती 80 दिन में 67 की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। 1445 ठीक हुए थे, जबकि आखिरी के दो हजार मरीजों में से 56 की मौत हुई और 1417 ठीक हुए।

प्रतिमा-झांकी, धार्मिक जुलूस, रैली पर प्रतिबंध; घरों में ही होगी पूजा-अर्चना

प्रदेश में अगले एक माह में होने वाले धार्मिक कार्यक्रम और त्योहारों के लिए राज्य सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इसमें मूर्ति-झांकी की स्थापना के साथ धार्मिक जुलूस व रैली पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है।

Leave a Comment