कोरोना वैक्सीन की घोषणा के बाद सोने की कीमतों में गिरावट

कोरोना वैक्सीन की घोषणा के बाद सोने (Gold Rate) की कीमतों में जो गिरावट (Gold price fall) आई थी, वह खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कभी अगर सोना थोड़ा सुधर जाता है तो अगले ही दिन उसमें गिरावट दिखने लगती है। अभी भी सोना (Gold Price Today) गिरावट के साथ खुला। शुक्रवार को 52,227 के स्तर पर बंद हुआ सोना आज नए कारोबारी सप्ताह के पहले ही दिन 76 रुपये की मामूली गिरावट के साथ 52,151 के स्तर पर खुला। परेशानी की बात ये है कि सोने में गिरावट इसके बाद के कारोबार में भी बढ़ती ही जा रही है। बाजार खुलने के महज चंद मिनटों के कारोबार में ही ऐसा भी वक्त आया जब सोने ने 52,220 रुपये का उच्चतम स्तर और 52,113 रुपये का निम्नतम स्तर छुआ। यानी उच्चतम स्तर भी गिरावट की भरपाई वाला नहीं रहा।

रूस द्वारा कोरोना टीका बनाने का दावा करने के बाद सोने और चांदी के दाम में बीते सप्ताह भारी गिरावट आई। लेकिन, आर्थिक सुस्ती, अमेरिका-चीन के बीच तकरार और डॉलर में कमजोरी से सोने और चांदी की तेजी को आगे भी सपोर्ट मिलने के आसार हैं। कमोडिटी विशेषज्ञों की माने तो सोने और चांदी के प्रति निवेशकों को आकर्षण अभी कायम है क्योंकि कोरोना का कहर अभी टला नहीं है और शेयर बजार में अनिश्चितता बनी हुई है। विशेषज्ञ बताते हैं कि महंगी धातुओं के प्रति निवेशकों का आकर्षण कम नहीं हुआ है, यही वजह कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोने का वायदा भाव रिकॉर्ड उंचाई 2089 डॉलर प्रति औंस से 215 लुढ़ककर 1874 डॉलर पर आ गया, लेकिन सप्ताह के आखिर में सोने का भाव 1953.60 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ, जोकि इससे पहले के रिकॉर्ड स्तर काफी उपर है। सोने का वायदा भाव इससे पहले 2011 में 1,911.60 डॉलर प्रति औंस तक उछला था।

Leave a Comment