गोवा के मंत्री के ऑडियो टेप पर मचा घमासान : कांग्रेस ने कहा- पर्रिकर के बेडरूम में छुपी हैं घोटाले की फाइलें

नई दिल्ली। गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे के ऑडिया टेप पर घमासान मचा हुआ है, नए साल के पहले दिन ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राफेल मुद्दे पर कहा कि उन पर कोई व्यक्तिगत आरोप नहीं हैं, कांग्रेस ने आज इस मामले में एक बार फिर सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस ने कहा है कि गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर के पास राफेल भ्रष्टाचार की सारी फाइलें मौजूद हैं. कांग्रेस ने गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे का ऑडिया टेप भी सुनाया। इसी के साथ कांग्रेस ने एक बार फिर राफेल पर जेपीसी की मांग को दोहराया है, वहीं मंत्री विश्वजीत राणे ने कांग्रेस के इस दावे को ‘बकवास’ बताया है।

राफेल पर आज दिन भर राजनीति गर्म रहने वाली है। लोकसभा में आज राफेल पर चर्चा होगी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी बोलेंगे. सरकार की ओर से रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण जवाब देंगी, इसके साथ ही वित्त मंत्री अरुण जेटली भी दखल देंगे। इसके साथ ही खबर है कि राफेल पर वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर पुर्नविचार याचिका दायर की है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ”राफेल घोटाले में गोवा की बीजेपी सरकार के मंत्री ने सनसनी खेज और चौंकाने वाला खुलासा किया है. कुछ दिन पूर्व हुई इस हंगामेदार बैठक में गहमागहमी के बीच गंभीर रूप से अस्वस्थय रहने के बावजूद गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने मनोहर पर्रिकर ने कहा कि उनका कोई कुछ नहीं कर सकता क्योंकि राफेल से जुड़ी सारी फाइलें उनके बेडरूम में हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा और राफेल से जुड़े मामले में मनोहर पर्रिकर का यह कहना राफेल में भ्रष्टाचार के सारे आरोपों की पुष्टि करता है. इससे साफ है कि चौकीदार ही जिम्मेदार है.”

सुरजेवाला ने कहा, ”10 अप्रैल 2015 को जब प्रधानमंत्री मोदी फ्रांस गए थे तब मनोहर पर्रिकर गोवा में मछली खरीद रहे थे। प्रधानमंत्री के प्रतिनिधिमंडल में मनोहर पर्रिकर नहीं थे. बल्कि अनिल अंबानी थे.” इसके साथ ही कांग्रेस ने तीन सवाल भी पूछे, पहला सवाल- मनोहर पर्रिकर के फ्लैट में राफेल घोटाले के कौन से राज दफ्न हैं. दूसरा सवाल- राफेल की फाइलों में कौन सा गड़बड़झाला है जिस पर चौकीदार पर्दा डाल रहा है? तीसरा सवाल- क्या भ्रष्टाचार की इसी कहानी के चलते चौकीदार जेपीसी की जांच से बच रहे हैं? अब साफ है चौकीदार ही चोर है।

सुरजेवाला ने सीधे प्रधानमंत्री के इंटरव्यू को लेकर कहा, ”प्रधानमंत्री इन आरोपों का जवाब दें, क्या चौकीदार मनोहर पर्रिकर से इसीलिए घबरा रहे हैं. चौकीदार आज राफेल पर हर सवाल का जवाब देने से बच रहे हैं. वो कहते हैं कि उन पर कोई व्यक्तिगत आरोप नहीं हैं. ये सबूत हैं आपके ऊपर व्यक्तिगत आरोप के. इसके साथ ही फ्रांस्वा ओलांद ने भी व्यक्तिगत आरोप लगाया है कि आपने शर्त रखी अनिल अंबानी की कंपनी को ठेका देने की.”

Leave a Comment