पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को मिली दिल्ली कांग्रेस की कमान, बनाया प्रदेश अध्यक्ष

नई दिल्ली। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अजय माकन के इस्तीफे के बाद दिल्ली कांग्रेस के नए चीफ को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। गुरुवार को इस पर विराम लग गया है। लगातार 15 सालों तक दिल्ली की सत्ता पर बतौर मुख्यमंत्री राज करने वाली शीला दीक्षित दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी (DPCC) की अध्यक्ष होंगी। इसके साथ ही डॉ. योगानंद शास्त्री, देवेन्द यादव, हारून यूसुफ और राजेश लिलोठिया को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है। बताया जा रहा है कि औपचारिक घोषणा जल्द की जाएगी।

जिस तरह पार्टी में अंदरूनी कलह है, उसे बहुत हद तक पाटने का काम शीला दीक्षित कर सकती हैं। ऐसे में शीला दीक्षित दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए मुफीद था। पहले से ही जहां अध्यक्ष के तौर पर जहां शीला दीक्षित का नाम सबसे आगे बताया जा रहा था, वहीं पूर्व पीसीसी चीफ जेपी अग्रवाल, राजेश लिलोठिया, योगानंद शास्त्री व देवेंद्र यादव का नाम भी चर्चा में था।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद को लेकर मुख्य तौर पर 4-5 नाम ही चल रहे थे, मगर दावेदारी 15 से 20 वरिष्ठ नेता ठोक चुके थे। इनमें कई पूर्व अध्यक्ष, सांसद, मंत्री और विधायक शामिल थे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) में सचिव पद की जिम्मेदारी संभाल रहे कई नेता भी इस दौड़ में शामिल थे।

Leave a Comment