पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने मनमोहन शाह बट्टी की मौत की सीबीआई जांच कराने की मांग की

मध्य प्रदेश प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष और पूर्व सीएम कमल नाथ ने अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनमोहन शाह बट्टी की मौत की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान को एक पत्र लिखकर कहा है कि जब वे मनमोहन शाह बट्टी के निधन के बाद उनके घर देवरी गए थे तो उनके परिजनों ने संदिग्ध अवस्था में उनकी मौत होने की आशंका जताई थी।

उधर आज पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने पत्रकार वार्ता में आरोप लगाया कि सरकार फसल बीमा देने की बात कर रही है, जबकि टेंडर तक नहीं निकाले गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया बिजली कंपनियां मुरैना में जिनके बिल दे रही हैं, उनके यहां कनेक्शन तक नहीं है। प्रजापति ने विद्युत नियामक आयोग को आईएएस अधिकारियों के विस्थापन का स्थान बताया।

एनपी प्रजापति ने कहा केवल बिजली कंपनियों को लाभ पहुंचाने के लिए विद्युत नियामक आयोग काम कर रहा है। प्रजापति ने कहा मनमोहन शाह बट्टी की मौत की सीबीआई जांच कराई जानी चाहिए जिससे दूध का दूध पानी का पानी हो।

उपचुनाव को लेकर पीसीसी चीफ कमलनाथ का जिला और ब्लॉक कमेटियों को पत्र लिखकर विधानसभा प्रभारी, सह प्रभारी, समन्वयक, मंडलम अध्यक्ष, सेक्टर प्रभारी, पन्ना प्रभारियों की जिम्मेदारी की तय की है। विधानसभा प्रभारी मंडल की लगातार मीटिंग करेंगे। पीसीसी चीफ कमल नाथ को देना होगा उसका फीडबैक। सह प्रभारी को भी मॉनिटरिंग का जिम्मा दिया गया है। सेक्टर अध्यक्ष को बूथ के पन्ना प्रभारियों से संपर्क रखना होगा।

Leave a Comment