परिवार की मौत: घर में फंदे पर लटके मिले पति-पत्नी, बेटा-बहू और 4 साल का पोता

भोपाल. टीकमगढ़ से 40 किमी दूर खरगापुर में रविवार को पांच सदस्यों का पूरा परिवार खत्म हो गया। वे अपने घर के दो कमरे में फांसी के फंदे पर लटके मिले। इसमें पति-पत्नी, बेटा-बहू और चार साल का पोता है। पुलिस के मुताबिक परिवार में जमीन बेचने के बाद पैसों को लेकर कलह हुआ होगा, जिसके चलते उन्होंने ये कदम उठाया।

परिवार के मुखिया 63 साल के धर्मदास सोनी थे, वे एक साल पहले पशु चिकित्सा विभाग से सेवानिवृत्त हुए। रविवार सुबह जब दूधवाला उनके घर पहुंचा तो दरवाजा नहीं खुला। इसकी जानकारी उसने पास में रहने वाले उनके भाई विजय कुमार को दी। उन्होंने जाकर दरवाजा खोलने की कोशिश लेकिन नहीं खुला। फिर खरगापुर थाने में जानकारी दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा खोला तो परिवार के पांचाें लोगों के शव फंदे पर लटकते मिले।

एकसाथ फंदे से लटके थे पति-पत्नी : पहले कमरे में बेटा मनोहर सोनी उम्र 28 वर्ष अकेला रस्सी पर लटका था। पास के कमरे में पिता धर्मदास और मां पूना देवी सोनी एक साथ अलग-अलग रस्सी पर लटकी थीं। यहीं पर मनोहर का चार साल बेटा सानिध्य लकड़ी के बने रैक से रस्सी के सहारे पलंग पेटी पर लटका मिला। मनोहर की पत्नी सोनम उम्र 26 वर्ष दरवाजे के कुंदे पर रस्सी के सहारे लटकी हुई थी।

डीआईजी छतरपुर विवेक सिंह और एसपी प्रशांत खरे ने घटना स्थल का बारीकी से मुआयना किया। घटना काे लेकर नगर के लोग दिनभर तरह-तरह के कयास लगाते रहे। मोहल्ले के लोगों ने बताया कि करीब 15 दिन पहले परिवार में जमीन का सौदा हुआ था। जिसमें एक करोड़ रुपए मिले थे। जिसे धर्मदास के भाईयों में आपस में बांटा गया था।

Leave a Comment