एयर इंडिया के सैलरी और प्रमोशन से नाराज 120 पायलटों ने दिया इस्तीफा

एयर इंडिया के पायलट अपनी सैलरी और प्रमोशन से बेहद नाराज चल रहे हैं. इसके चलते करीब 120 पायलटों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया है. एयरबस A-320 के करीब 120 पायलटों ने सैलरी बढ़ाने और प्रमोशन करने की मांग रखी थी, लेकिन एयर इंडिया के मैनेजमेंट ने उनकी मांगों को पूरा नहीं किया.

मैनेजमेंट की ओर से अपनी मांग पूरी नहीं किए जाने के बाद एयर इंडिया के इन पायलटों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया. समाचार एजेंसी एएनआई ने एयर इंडिया से इस्तीफा देने वाले एक पायलट के हवाले से बताया, ‘एयर इंडिया मैनेजमेंट को हमारी शिकायतों को सुनना चाहिए. हमारी सैलरी बढ़ाने और प्रमोशन करने की मांग लंबे समय से अटकी पड़ी है. साथ ही मैनेजमेंट हमको मजबूत भरोसा देने में भी असफल रहे हैं.’

पायलट ने यह भी आरोप लगाया है कि हम लोगों को समय पर सैलरी भी नहीं मिल पा रही थी. लिहाजा हमने इस्तीफा दे दिया है. पायलट ने आरोप लगाया कि पहले पायलटों को कम वेतन पर पांच वर्ष के कॉन्ट्रैक्ट पर हायर किया जाता है. उसने जोड़ा कि हमें उम्मीद थी कि अनुभव के साथ वेतन बढ़ेगा और पदोन्नति मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

इस्तीफा देने वाले पायलटों ने विश्वास व्यक्त किया कि उन्हें कहीं जॉब मिल जाएगी. मार्केट खुला है. इस समय इंडिगो एयरलाइंस, गो एयर, विस्तारा, एयर एशिया और इंडियन एयरलाइंस भी एयरबस ए-320 की उड़ानें संचालित कर रही हैं.

घाटे में चल रही एयर इंडिया

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने एयर इंडिया के निजीकरण की बात कही है. केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने पिछले दिनों स्पष्ट किया था कि सरकार ने एयर इंडिया के निजीकरण का अपना फैसला नहीं बदला है.

सरकार कंपनी में अपनी 76 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है. बता दें कि एयर इंडिया घाटे में चल रही है और कंपनी पर हजारों करोड़ रुपये की देनदारियां बकाया हैं.

Leave a Comment