यूथ इंटर्नशिप प्रोग्राम के माध्यम से युवाओं को प्रलोभन दे रही है शिवराज सरकार- विवेक त्रिपाठी

भाजपा के पास नहीं बचे कार्यकर्ता पैसा देकर कार्यकर्ताओं की चुनावी फौज खड़ी करना चाहती है – विवेक

भोपाल – चुनावी साल में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने योजनाओं और घोषणाओं की झड़ी लगा दी हैं। शिवराज सरकार वोटर्स को प्रलोभन देने में कोई कसर नहीं छोड़ रही। शिवराज सरकार के वादों पर विपक्ष लगातार हमलावर है। लाड़ली बहना योजना से लेकर सीखो कमाओ योजना सभी योजनाओं को युवा कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष विवेक त्रिपाठी ने चुनावी जुमला बताते हुए योजनाओं में प्रचार प्रसार पर करोड़ों रुपए स्वाहा करने का आरोप लगाया यूथ इंटर्नशिप कार्यक्रम के माध्यम से भाजपा सरकार लगभग 50 करोड़ से ज्यादा रूपए स्वाहा करने वाली हैं।
विवेक त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के यूथ इंटर्नशिप प्रोग्राम के अंतर्गत जनसेवा मित्र के रूप में चयनित किए गए युवाओं को प्रलोभन दे रही है। शिवराज सरकार चुनावी स्टाइपेंड देकर प्रदेश के युवाओं को युवा मोर्चा और संगठन से जुड़ने का प्रलोभन दे रही हैं। भाजपा सरकार के पास युवा कार्यकर्ताओं की भारी कमी हो गई, इसलिए शासकीय पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं। हालांकि, शिवराज सरकार का यह हथकंडा कभी कामयाब नहीं होगा
त्रिपाठी ने आगे कहा, भाजपा सरकार ने 5 हजार युवाओं को छ: महीने के लिए पहले रखा था अब फिर 5 हजार युवाओं को रखा है ऐसे में भाजपा सरकार ने 10 हजार युवाओं को यूथ इंटर्नशिप प्रोग्राम के माध्यम से चुनावी स्टाइपेंड देकर भाजपा सरकार की चुनावी फौज मध्यप्रदेश में उतार रहीं लेकिन मध्यप्रदेश के युवा विरोधी नीतियों को जनता अच्छे से समझ चुकी हैं आगामी विधानसभा चुनाव में मध्यप्रदेश का युवा और जनता इसका जवाब देगी ।

Leave a Comment